Menu
                   
RSS

You Are Visitor No.

web
statistics

तमिलनाडु में सरकार बनाने के करीब पलानीस्वामी

चेन्नई: तमिलनाडु में मुख्यमंत्री बनाए जाने को लेकर बना सस्पेंस अब खत्म होने जा रहा है। ई. पलानीस्वामी राज्यपाल विद्यासागर राव से मिलने के लिए उनके आवास पर पहुंच चुके हैं। उनके साथ, राज्य के मंत्री जयकुमार, के. ए. सेनगोत्तैयान, एस. पी. वेलुमनि, टी.टी. दिनाकरन, के.पी. अनबझेगन भी राजभवन जानेवाले प्रतिनिधिमंडल में शामिल हैं।

तमिलनाडु के राज्यपाल सी. विद्यासागर राव ने एआईडीएमके विधायक दल के नेता ईडाप्पाडी के. पलानीस्वामी को दोपहर साढ़े बारह बजे मुलाकात के लिए बुलाया था। ऐसा माना जा रहा है कि राज्यपाल एक हफ्ते के भीतर पलानीस्वामी को सदन में अपनी बहुमत सिद्ध करने की मोहलत दे सकते हैं। खबर के मुताबिक, राजभवन के सूत्रों का कहना है कि बुधवार शाम को पलानीस्वामी और कार्यवाहक मुख्यमंत्री ओ पन्नीरसेल्वम ने राज्यपाल से मुलाकात की, जिसके बाद संख्या बल के आधार पर पलानीस्वामी का दावा स्वीकार कर लिया गया।

ऐसा कहा जा रहा है कि 'पलानीस्वामी ने 124 विधायकों के समर्थन की सूची राज्यपाल को सौंपी है, जबकि पन्नीरसेल्वम ने दावा किया है कि उनके पास 8 विधायकों का समर्थन हैं। राज्यपाल के पास फिलहाल पलानीस्वामी को आमंत्रित करने के अलावा कोई विकल्प नहीं बचा है।' सूत्र के अनुसार, राज्यपाल ने उन सभी पहुलुओं पर विचार किया है जिनमें कहा जा रहा था कि कई विधायकों को रिजॉर्ट में कैद करके रखा गया है।

इससे पहले बुधवार साम को 7.30 बजे पलानीस्वामी ने तमिलनाडु के राज्यपाल सी विद्यासागर राव से मुलाकात कर उनसे आग्रह किया कि उन्हें सरकार बनाते का न्यौता दिया जाए। राज्यपाल से मुलाकात के बाद शशिकला के समर्थक डी. जयकुमार ने बताया 'उन्होंने राज्यपाल से पलानीस्वामी को सरकार बनाने के लिए आमंत्रित करने की गुजारिश की है। हमें उम्मीद है कि राज्यपाल हमें जल्दी ही सरकार बनाने के लिए आमंत्रित करेंगे।'

उधर, जेल जाने से पहले शशिकला ने अपने उन रिश्तेदारों को फिर से पार्टी में शामिल कर लिया जिन्हें जयललिता ने पार्टी से निकाल दिया था। शशिकला ने अपने भतीजे और पूर्व राज्यसभा सदस्य दिनाकरण को अन्नाद्रमुक का उप महासचिव नियुक्त किया है।

दिनाकरण की नियुक्ति के बाद अन्नाद्रमुक के वरिष्ठ नेता वी. करप्पासामी पांडियन ने पार्टी के संगठन सचिव पद से इस्तीफा दे दिया। नाराज पांडियन ने जयललिता द्वारा निष्कासित लोगों को फिर से शामिल करने के शशिकला के अधिकार पर सवाल उठाया और कहा कि क्या अन्नाद्रमुक शशिकला की पारिवारिक संपत्ति है।

 

Last modified onThursday, 16 February 2017 06:39
back to top

इन्हें भी पढ़ें

loading...
Info for bonus Review William Hill here.