Menu
                   
RSS

You Are Visitor No.

web
statistics

37 हजार करोड़ में नीलाम होगी सुब्रत राय की एंबी वैली

मुंबई/ सुब्रत रॉय के स्वामित्व वाले सहारा समूह को बॉम्बे हाईकोर्ट से झटका लगा है। सर्वोच्च न्यायालय के निर्देश के तीन दिन बाद सोमवार को बॉम्बे हाईकोर्ट ने सहारा समूह की लोनावला स्थित एंबी वैली परियोजना की नीलामी का आदेश दिया है। एंबी वैली परियोजना के आधिकारिक परिसमापक (ऑफिशियल लिक्विडेटर) ने इस नीलामी का आरक्षित मूल्य 37,392 करोड़ रुपये रखा है।

आपको बता दें कि 10 अगस्त को सुप्रीम कोर्ट ने सहारा केस की सुनवाई में कहा कि एंबी वैली की नीलामी प्रक्रिया नहीं रुकेगी। कोर्ट ने सहारा प्रमुख की नीलामी की प्रक्रिया पर रोक लगाने की याचिका खारिज कर दी थी। बॉम्बे हाइकोर्ट के ओएल विनोद शर्मा ने सोमवार को मीडिया में नीलामी के नोटिस जारी किए। ओएल के मुताबिक, संपत्तियों को देखते हुए नीलामी प्रक्रिया दो चरणों में पूरी होगी, जो दो दिनों तक चलेगी। 

ओएल ने संपत्ति के संभावित बोली लगाने वालों के लिए संपत्ति के बारे में बताते हुए कहा कि यह सहयाद्री पहाड़ी श्रृंखला पर प्रकृति की गोद में स्थित है। दरसअल 25 जुलाई को सुप्रीम कोर्ट ने सहारा प्रमुख को 11 सितंबर तक 1500 करोड़ रुपये जमा कराने का आदेश दिया था। सुप्रीम कोर्ट ने कहा ऐंबी वैली प्रॉपर्टी के नीलाम करने की प्रक्रिया शुरू हो। सुप्रीम कोर्ट ने कहा था कि पहले बकाया पैसे जमा हो उसके बाद हम देखेंगे कि निवेशक को पैसा आपके कहे मुताबिक मिला था या नही।

पुणे जिले में बसाई गई यह वैली बहुत शानदार है। मुंबई से लगभग 120 किमी की दूर लोनावाला के पास मुंबई-पुणे हाईवे पर पहाड़ियों के बीच बसा यह एक शानदार शहर है। एंबी वैली परियोजना 6,761.64 एकड़ क्षेत्र में फैली हुई है जो पहाड़ो के बीच स्थित है।

Read more...

महाराष्ट्र में एक नाले से मिले 19 बच्चियों के भ्रूण

सांगली: महाराष्ट्र के सांगली जिले में बच्चियों को पैदा होने से पहले ही कोख में मार देने का मामला सामने आया है। यहां एक नाले के अंदर से पुलिस ने 19 बच्चियों के भ्रूण को बरामद किया। फिलहाल, इस मामले का मास्टरमाइंड डॉक्टर अभी पुलिस की गिरफ्त से बाहर है। सांगली जिले के महसाल गांव में रविवार को एक नाले के अंदर से 19 भ्रूण बरामद हुए। बच्चियों के भ्रूण को प्लास्टिक की थैलियों में पैक कर नाले में दबा दिया गया था।मामले का खुलासा तब हुआ, जब एक 26 वर्षीय महिला की अबॉर्शन के दौरान मौत हो गई।

जिस महिला की मौत हुई, वह तीसरी बार प्रेग्नेंट थी और उसकी पहले से दो बेटियां थीं। इस बार भी बेटी ही पैदा होने वाली थी। तीसरी बार जब महिला प्रेग्नेंट हुई तो पति ने सांगली के भारती हॉस्पिटल में भ्रूण की जांच करवाई।पति के कहने पर हॉस्पिटल के डॉ. बाबा साहब खिंद्रापुरे ने अबॉर्शन की कोशिश की, जिसमें महिला की मौत हो गई।इसके बाद महिला के मायकेवालों ने डॉक्टर के खिलाफ मामला दर्ज करवाया। पुलिस ने जांच शुरू की तो कोख में बच्चियों को मारने के इस खेल का खुलासा हुआ।

सांगली के एसपी दत्तात्रेय शिंदे ने बताया, "गांव के भारती हॉस्पिटल में महिलाओं का अबॉर्शन कर उनके भ्रूण को नाले में दबा दिया जाता था। यह खेल कई महीने से जारी था।"नाले में से 19 बच्चियों के भ्रूण बरामद हुए हैं। इन सभी को अबॉर्शन के बाद यहां दबाया गया था।पुलिस के मुताबिक, हॉस्पिटल के डॉक्टर बाबा साहब खिंद्रापुरे के पास होमियोपैथी की डिग्री है, लेकिन उसके हॉस्पिटल में सर्जरी का पूरा सामान मौजूद है।हॉस्पिटल के डॉक्टर के खिलाफ पुलिस ने केस दर्ज कर उसकी गिरफ्तारी की कोशिश शुरू कर दी है। फिलहाल, डॉक्टर बाबा साहब फरार है।

Read more...

RSS का सुझावः ढाई-ढाई साल के लिये बन जाये मुंबई में भाजपा-शिवसेना के मेयर

मुंबई: मुंबई में बीएमसी चुनाव के खंडित नतीजे आने के बाद से जारी गतिरोध के बीच एक नया फॉर्मूला सामने आया है। आरएसएस विचारक एमजी वैद्य ने कहा है कि राज्य में गठबंधन सरकार चलाने वाली बीजेपी और शिवसेना को ढाई-ढाई साल के लिए मेयर पद रखना चाहिए। वैद्य ने कहा कि बीएमसी में सबसे बड़ा दल होने के नाते शिवसेना को मेयर का पद पहले मिलना चाहिए।

ऐसी अटकलें थीं कि शिवसेना कांग्रेस का समर्थन ले सकती है लेकिन सोमवार को कांग्रेस ने कहा कि उद्धव ठाकरे की पार्टी शिवसेना का समर्थन करने का कोई सवाल ही नहीं है। बीएमसी चुनाव में किसी भी पार्टी को स्पष्ट बहुमत नहीं मिला है। हालांकि, शिवसेना सबसे बड़ी पार्टी के तौर पर उभरी है, लेकिन दूसरे नंबर पर रही बीजेपी भी सीटों के मामले में शिवसेना के करीब ही है। 227 सीटों वाली बीएमसी में शिवसेना को 84, बीजेपी को 82, कांग्रेस 31, एनसीपी को 7 और एमएनएस को 7 सीटें मिली हैं। बहुमत का आंकड़ा 114 होता है।

इस बीच, राकांपा प्रमुख शरद पवार ने कहा कि उनकी पार्टी सभी नगर निगमों और जिला परिषदों में कांग्रेस से हाथ मिलाएगी। सीएम देवेन्द्र फड़णवीस ने इस बात से पहले ही इनकार कर दिया है कि बीजेपी बीएमसी में कांग्रेस की मदद मांग रही है। पवार ने नांदेड़ में संवाददाताओं से कहा, राकांपा चुनाव बाद के परिदृश्य में राज्य के सभी 10 नगर निगमों और 25 जिला परिषदों में गठबंधन करेगी।

उन्होंने कहा, अगर दोनों पार्टियां गठबंधन करती हैं तो 25 जिला परिषदों में से करीब 17 से 18 में सत्ता में आ सकती हैं। आने वाले दिनों में मुंबई में एक बैठक होने वाली है, जहां गठबंधन को अंतिम रूप दिया जाएगा। आपको बता दें कि 25 जिला परिषदों की 1509 सीटों में बीजेपी ने 406, कांग्रेस ने 309, राकांपा ने 360 और शिवसेना ने 271 सीटों पर जीत हासिल की है।

Read more...

दिल्ली के छात्र संगठनों की लड़ाई पुणे पहुंची

पुणे: छात्र संघों के बीच दिल्ली में जो लड़ाई शुरू हुई अब वो महाराष्ट्र के पुणे पहुंच गयी है. देर रात पुणे यूनिवर्सिटी में अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद और स्टूडेंट फेडेरेशन ऑफ इंडिया यानी SFI के छात्रों के बीच मारपीट हुई. दोनों छात्र संघ एक-दूसरे के ऊपर आरोप लगा रहे हैं. पुलिस ने इस मामले में एबीवीपी के चार और एसएफआई के पांच छात्रों को हिरासत में लिया है.

छात्रों को दो गुटों के बीच झड़प की शुरूआत ऐसे ही पोस्टर्स लगाने को लेकर हुई. विवाद इतना ज्यादा बढ़ गया की नौबत मारपीट तक पहुंच गयी.एसएफआई यानि स्टूडेंट फेडेरेशन ऑफ इंडिया के छात्रों के मुताबिक सेना के जवानों के ऊपर बीजेपी एमएलसी प्रशांत परिचारक ने जो आपत्तिजनक बयान दिया था उसी के विरोध में एक कार्यक्रम का आयोजन 27 फरवरी को किया गया है, जिससे संबंधित पोस्टर वो चिपका रहे थे, तभी एबीवीपी के 25-30 लोग वहां आए और उनसे मारपीट की.

वहीं एबीवीपी के छात्रों का आरोप है कि SFI के लोग एबीवीपी मुर्दाबाद के पोस्टर लगा रहे थे, जब उन्होंने इसका विरोध किया तो उन्होंने गाली गलौज और मारपीट की.पुणे के चतुश्रुंगी पुलिस स्टेशन में दोनों पक्षों ने एक-दूसरे के खिलाफ शिकायत दर्ज करायी जिसके बाद एसएफआई के पांच और एबीवीपी के चार छात्रों को मिलाकर कुल नौ छात्रों को हिरासत में ले लिया है.

Read more...

इन्हें भी पढ़ें

loading...
Info for bonus Review William Hill here.