Menu
                   
RSS

You Are Visitor No.

web
statistics

मजबूत होते रुपये से राहत

भारतीय अर्थव्यवस्था बेहद मजबूत है पर बीते दिनों जिस प्रकार एशिया की सभी मुद्राएं यूएस डॉलर, जापानी येन,यूरो व पाउण्ड के समकक्ष बेहद कमजोर लगातार हो रही थीं उसमें भारत की मुद्रा रुपया भी शामिल है। 
बीते दो ट्रेडिंग सत्रों में रुपये में मजबूती दिखाई देना भारत की मजबूत अर्थव्यवस्था और सरकार के प्रभावशाली कदमों को दर्शाता है।

 


रुपये की कमजोरी में सुधार यूएस डॉलर के सापेक्ष करीब 40 पैसे का है तो यूरो और पाउण्ड के समकक्ष करीब 50 पैसे का है वहीं जापानी येन भी निक्काई स्टॉक एक्सचेंज की जबर्दस्त मजबूती के चलते रुपये के आगे करीब 45 पैसे की कमजोरी से व्यापार करता दिखाई दिया।


भारत के विदेशी आयात व्यापार के लिये यह बीते दिनों के मुकाबले सुखद संकेत माने जा सकते हैं। कयास ये भी लगाये जा रहे हैं कि व्यापार में सबसे अधिक प्रचलित यूएस डॉलर की दर रुपये के सापेक्ष 75 रुपये प्रति डॉलर तक जा सकती है परन्तु जिस प्रकार बीते 8 दिनों में रुपया यूएस डॉलर के समकक्ष 73 रुपये के स्तर से बार-बार लौटा है उससे अब इसकी उम्मीदें कम दिखाई देती हैं।

back to top

इन्हें भी पढ़ें

loading...
Info for bonus Review William Hill here.