Menu
                   
RSS

You Are Visitor No.

web
statistics

प्रवासी संकट के मुद्दे पर यूरोपीय देशों की वार्ता

विएनाः प्रवासियों के साथ दुर्घटना का दर्द अब यूरोप महसूस करने लगा है और इस समस्या के पूरी तरह निदान के लिये हल खोजने की पहल भी यूरोपीय यूनियन के देशों ने विएना वार्ता के द्वारा शुरू कर दी है। अफ्रीका व युद्धग्रस्त सीरिया के लोगो ंके द्वारा अपने देशों को छोड़ने के साथ अवैध रूप से यूरोप जाने की घटनाओं और दुर्घटनाओं से आज पूरा विश्व व्यथित है।उत्तर अफ़्रीका और पश्चिम एशिया से शरणार्थियों और प्रवासियों की बढ़ती संख्या से प्रभावित यूरोपीय देशों के नेता इस बात पर सहमत हुए हैं कि इस संकट से निपटने के लिए तुर्की के साथ मिल कर काम करना आवश्यक है।10 देशों के नेताओं ने शनिवार को विएना में मुलाकात की। वे यूरोपीय संघ से यह आग्रह करने पर सहमत हुए कि यूरोपीय संघ अपना सीमा-नियंत्रण और कड़ा करते हुए तुर्की के साथ अपने संबंधों को उचित तरीके से संभाले। यूरोपीय संघ और तुर्की के बीच हुए एक समझौते के अंतर्गत तुर्की प्रवासियों और शरणार्थियों को वापिस स्वीकार करता है।लेकिन जुलाई में तख्ता पलट की नाकाम कोशिश के बाद विरोधी बलों पर तुर्की के राष्ट्रपति तैयप एर्दोआन की सरकारी कार्रवाई के बाद से इन संबंधों में तनाव आया हुआ है।हंगरी के प्रधान मंत्री विक्टर ओर्बान ने बैठक के बाद हुए संवाददाता सम्मेलन में कहा कि यूरोपीय संघ को तुर्की के साथ हुआ समझौता टूटने की आशंका के प्रति तैयार रहना चाहिए। प्रधान मंत्री ओर्बान शरणार्थियों के प्रवेश को नियंत्रित करने की वकालत करते आए हैं।

 

Read more...

इन्हें भी पढ़ें

loading...
Info for bonus Review William Hill here.