Menu
                   
RSS

You Are Visitor No.

web
statistics

महंगाई से परेशान वेनेजुएला सरकार ने जारी किए 500 और 20,000 के नये नोट

कराकस: वेनेजुएला सरकार ने पिछले महीने बंद किए गए 100 बोलिवर के नोट के बाद 500 और 20,000 बोलिवर के नए नोट जारी किए हैं। सरकार ने यह कदम देश में बढ़ती महंगाई दर और तबाह होती इकोनॉमी को बचाने के लिए उठाया है। नए नोट जारी होने के बाद ATMs के बाहर लंबी लाइनें देखी जा रही हैं। इतना ही नहीं, यहां के लोग नए नोटों पर इतने सारे जीरो देखकर भी हैरान हो रहे हैं। 

वेनेजुएला के प्रेसिडेंट निकोलस मादुरो ने पिछले महीने 100 बोलिवर के नोट बंद करने का एलान किया था। देश की टोटल करंसी का 77% हिस्सा 100 बोलिवर के नोट में था।उस वक्त तक सरकार नई करंसी तैयार नहीं करा पाई थी। लिहाजा, काफी हिंसा हुई और 7 लोगों की मौत हो गई थी। सरकार का कहना है कि देश में महंगाई दर तीन अंकों में पहुंच गई है। इसके अलावा, कालाबाजारी भी बेकाबू हो रही थी। इसलिए बड़े नोट लाना जरूरी था। दिसंबर के दूसरे हफ्ते में यहां महंगाई दर 180 अंकों तक पहुंच गई थी। सरकार के सामने एक बड़ा खतरा फॉरेन एक्सचेंज रिजर्व का भी था। ये खत्म हो रहा था और इसकी वजह से देश में फूड प्रोडक्ट्स की कमी हो रही थी। वेनेजुएला में सरकार को फूड इम्पोर्ट पर काफी पैसा खर्च करना पड़ता है।

कराकस में रहने वाली मेलिना मोलिना नए नोट को देखकर हैरान हैं। उन्होंने कहा- "मैंने कभी नहीं सोचा था कि मेरे हाथ में इतना बड़ा नोट होगा जिसमें ढेर सारे जीरो होंगे। लेकिन सरकार ने ये फैसला महंगाई और गलत कामों को रोकने के लिए किया है तो फिर ये सही है।" मेलिना के मुताबिक, "पहले जब वे खरीददारी करने के लिए जाती थीं तो उन्हें ढेर सारे नोट लेकर जाना पड़ता था।"

Read more...

वेनेजुएला में हिंसा के बाद नोटबंदी का फैसला फिलहाल वापिस

कराकस: वेनेजुएला में विरोध बढ़ने के साथ समस्या में घिरे राष्ट्रपति निकोलस मादुरो ने देश में बड़े नोटों को चलन से हटाने का फैसला दो जनवरी तक टाल दिया है। मादुरो ने कल कहा कि 100 बोलिवर का नोट अस्थायी रूप से वैध मुद्रा बनी रहेगी लेकिन कोलंबिया तथा ब्राजील से लगी सीमा बंद रहेगी ताकि माफिया ने जो वेनेजुएला की मुद्रा अपने पास जमा कर रखी है, वे इससे प्रभावित हों। उन्होंने कहा कि यह देश को अस्थिर करने की साजिश है जिसे अमेरिका समर्थन दे रहा है।मादुरो ने सरकारी टेलीविजन पर कहा, ‘आप शांति के साथ 100 रुपये के नोट का उपयोग अपनी खरीद और अन्य गतिविधियों के लिये कर सकते हैं।’ यह नोट 15 यूएस सेंट के बराबर है और वेनेजुएला में कुल मुद्रा का यह 77% है। अंतरराष्ट्रीय मुद्राकोष के अनुसार वेनेजुएला में मुद्रास्फीति 475% पर पहुंच गयी है जो दुनिया में सर्वाधिक है।सरकार पुराने नोट से 200 गुना तक उच्च मूल्य वर्ग के नोट की नई मुद्रा जारी करने का प्रयास कर रही थी लेकिन मादुरो ने नये नोट आने से पहले ही 100 बोलिवर नोट पर प्रतिबंध लगा दिया। मादुरो ने कहा कि चार हवाईजहाज नई मुद्रा लेकर विदेश से पहुंचने वाले थे लेकिन अंतरराष्ट्रीय धोखाधड़ी के चलते इनके पहुंचने में देरी हुई। हालांकि, उन्होंने न तो यह बताया कि मुद्रा कहां से आ रही थी और किस तरह की साजिश की गई। 

Read more...

भारत से सबक लेकर वेनेजुएला ने बंद किये 100 के नोट

कराकस: वेनेजुएला के राष्ट्रपति निकोलस मादुरो ने देश में सबसे बड़ी राशि यानी 100 बोलिवर के नोट को बंद करने के लिए आपात आदेश जारी किए हैं। उन्होंने यह आदेश उन ‘माफियाओं’ को नाकाम करने के लिए जारी किए हैं, जिन पर वह कोलंबिया में नकदी की जमाखोरी का आरोप लगाते हैं।यह घोषणा कल की गई। आर्थिक संकट और विश्व की सबसे अधिक महंगाई झेल रहे वेनेजुएला की सरकार ने नए नोट और सिक्के जारी करने की तैयारी की है, जिनका मूल्य इस समय उपलब्ध सबसे बड़ी राशि के नोट से लगभग 200 गुना ज्यादा होगा। वेनेजुएला के 100 बोलिवर के एक नोट की कीमत इस समय एक डॉलर के तीन सेंट्स से कुछ कम है। एक नोट से मुश्किल से एक कैंडी खरीदी जा सकती है। यदि किसी को एक हैमबर्गर खरीदना है तो उसे 50 नोट चाहिए।

Read more...

गुट निरपेक्ष आंदोलन का 17वां शिखर सम्मेलन एक घोषणापत्र जारी करके समाप्त

कराकास: वेनेज़ोएला में गुट निरपेक्ष आंदोलन का 17वां शिखर सम्मेलन एक घोषणापत्र जारी करके  समाप्त हो गया। गुट निरपेक्ष आंदोलन का 17वां शिखर सम्मेलन शांति, सम्प्रभुता और समरसता व एकजुटता में विस्तार के लक्ष्य से आयोजित हुआ था।गुट निरपेक्ष आंदोलन युद्ध, अन्याय, हिंसा और अतिवाद से ग्रस्त विश्व में समरसता को जीवित करने का प्रयास कर रहा है।इसका अर्थ यह है कि विश्व की वर्चस्ववादी शक्तियां दूसरे देशों के आंतरिक मामलों में हस्तक्षेप करना बंद कर दें और मानवाधिकार और वास्तविक अर्थों में आज़ादी का सम्मान करें।

इस दो दिवसीय शिखर सम्मेलन में महत्वपूर्ण अंतरराष्ट्रीय मामलों की समीक्षा की गयी और गुट निरपेक्ष आंदोलन की अध्यक्षता ईरान से वेनेजोएला को सौंपी गयी।गुट निरपेक्ष आंदोलन के शिखर सम्मेलन की समाप्ति पर जारी होने वाले घोषणापत्र में महत्वपूर्ण बिन्दुओं की ओर संकेत किया गया है।

गुट निरपेक्ष आंदोलन का प्रयास है कि वह युद्ध, अन्याय, हिंसा और अतिवाद से ग्रस्त विश्व में समरसता, सहकारिता और राष्ट्रों के अधिकारों को जीवित करे।

गुट निरपेक्ष आंदोलन के 17वें शिखर सम्मेलन की समाप्ति पर जो घोषणा पत्र जारी हुआ है उसमें स्पष्ट रूप से कहा गया है कि शांति, अर्थ व्यवस्था, विकास और मानवाधिकार के संबंध में जो चुनौतियां हैं उन पर काबू पाने के लिए प्रभावी ढंग से इस घोषणापत्र को लागू किये जाने की आवश्कता है।

इसी प्रकार ये शक्तियां निरस्त्रीकरण और अंतरराष्ट्रीय सुरक्षा के लिए भी प्रयास करें ताकि विश्व को विनाशकारी विशेषकर परमाणु हथियारों के डरावने स्वप्न से बचाया जा सके।

इसी प्रकार गुट निरपेक्ष आंदोलन आतंकवाद को विश्व की शांति व सुरक्षा के लिए गम्भीर ख़तरा मानता है और वह जहां भी, जिस रूप में और जिस कारण से हो, उसकी भर्त्सना करता है।

बहरहाल वेनेज़ोएला में गुट निरपेक्ष आंदोलन के शिखर सम्मेलन की समाप्ति पर जारी होने वाले घोषणा पत्र को एक दौर की समाप्ति और नये दौर का आरंभ माना जाना चाहिये और उसे साक्षात रूप देने के लिए अंतरराष्ट्रीय समर्थन की आवश्यकता है।गुट निरपेक्ष आंदोलन इन शक्तियों का आह्वान करता है कि वे निरस्त्रीकरण और परमाणु हथियारों का प्रयोग न करने या दूसरे को धमकी न देने के संबंध में शीघ्र और गम्भीर वार्ता आरंभ करें और परमाणु तकनीक से शांतिपूर्ण लक्ष्यों के लिए लाभ उठाने के दूसरे देशों व राष्ट्रों के अधिकारों का सम्मान करें।

Read more...

इन्हें भी पढ़ें

loading...
Info for bonus Review William Hill here.