Menu
                   
RSS

You Are Visitor No.

web
statistics

रूस ने सीरिया में मारे 200 से ज्यादा आतंकी

मास्को/ सीरिया के डेर अल जोर में रूस की ओर से किए गए हवाई हमले में 200 से अधिक इस्लामिक स्टेट (आईएस) के आतंकवादी मारे गए हैं।

रूस के रक्षा मंत्रालय ने आज कहा कि रूस की वायु सेना की ओर से किए हवाई हमले में आईएस को रक्का और होम्स प्रांत से पीछे हटने पर मजबूर कर दिया गया। उन्होंने कहा कि इस हमले में आतंकवादियों के हथियारों को भी नष्ट किया गया। रूस की एयरफोर्स ने आईएस के ठिकानों पर ताबड़तोड़ हवाई हमले किए, जिससे आतंकियों को भागने का भी मौका नहीं मिला।

Read more...

अमेरिका के 755 राजनियकों को रूस छोड़ने का आदेश

मास्को/ रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने रविवार को कहा कि अमेरिका के 755 राजनयिकों को रूस से हटना होगा और चेतावनी दी कि हो सकता है कि वॉशिंगटन के साथ लंबे समय तक संबंधों में सुधार नहीं हो। अमेरिका की तरफ से कड़े प्रतिबंध लागू किए जाने के बाद रूस ने यह कदम उठाया है।

रूस द्वारा उठाए गए इस कदम को अमेरिका ने अफसोसजनक और अनैतिक बताया है। अमेरिकी स्टेट डिपार्टमेंट के एक अधिकारी ने बताया कि रूस ने देश में राजनयिकों को देश छोड़ने को कहा है। अब एक सितंबर के बाद यह संख्या 455 हो जाएगी। उन्होंने कहा, 'हम इस आदेश के प्रभाव का आकलन कर रहे हैं। इसके साथ ही यह भी देख रहे हैं कि इसका जवाब कैसे दिया जाए।'

रूस के विदेश मंत्रालय ने पहले मांग की थी कि वॉशिंगटन रूस में सितम्बर तक राजनयिकों की संख्या कम कर 455 तक करे। इतने ही रूसी राजनयिक अमेरिका में हैं। पुतिन ने रोसिया-24 टेलीविजन को दिए साक्षात्कार में कहा कि अमेरिका के दूतावास और महावाणिज्य दूतावासों में 'एक हजार से ज्यादा लोग काम कर रहे थे और अब भी काम कर रहे हैं।'

Read more...

रूस के खिलाफ अमेरिकी प्रतिबंधों के परिणाम अभी और घातक होंगे

मास्को/ अमेरिका ने रूस के ख़िलाफ़ जो प्रतिबंध लगाये हैं उसके मुकाबले में रूस ने मॉस्को में स्थित अमेरिकी दूतावास के कर्मचारियों को कम करने का फैसला किया है।

रूसी विदेशमंत्रालय की ओर से जारी विज्ञप्ति में कहा गया है कि मॉस्को में अमेरिकी दूतावास के कर्मचारियों की संख्या में कम करने के अलावा पहली अगस्त से मॉस्को में अमेरिकी कूटनयिक दो स्थानों का प्रयोग कूटयनिक स्थान के रूप में नहीं कर सकेंगे।

रूसी विश्लेषक एलेक्सी मूख़ीन का मानना है कि जिन लोगों ने रूस के ख़िलाफ़ प्रतिबंध की योजना बनाई थी उन्होंने बहुत बड़ी ग़लती की है क्योंकि रूस विरोधी प्रतिबंधों में रूस की चिंताओं को ध्यान में नहीं रखा गया।

साथ ही रूसियों ने अमेरिका के नये प्रतिबंधों को राजनीतिक युद्ध की घोषणा का नाम दिया है। जैसाकि रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतीन ने अमेरिकी प्रतिबंध को दुस्साहसी कार्यवाही का नाम दिया और कहा कि इसके ख़तरनाक परिणाम निकलेंगे।

जब डोनाल्ड ट्रम्प अमेरिका के राष्ट्रपति बने थे तो आम धारणा यह थी कि अब अमेरिका और रूस के संबंध बेहतर हो जायेंगे परंतु अब स्थिति बिल्कुल विपरीत दिशा में जा रही है।

प्रतीत यह हो रहा है कि अमेरिका ने रूस के ख़िलाफ़ जो प्रस्ताव पारित किया है वह निकट भविष्य में दोनों देशों के संबंधों में तनाव में वृद्धि का कारण बनेगा। यह बात रूसियों की कल्पना के बिल्कुल खिलाफ है क्योंकि उनका मानना था कि ट्रम्प के आने के बाद दोनों देशों के संबंध बेहतर होंगे।

रोचक बात यह है कि डोनाल्ड ट्रम्प रूस के साथ संबंधों को बेहतर बनाये जाने यहां तक कि कुछ अंतरराष्ट्रीय मामलों में रूस के साथ सहकारिता करने के भी इच्छुक हैं परंतु अमेरिकी कांग्रेस ने रूस के ख़िलाफ प्रतिबंधों को पारित करके द्वीपक्षीय संबंधों के बेहतर बनाये जाने के हर मार्ग को बंद कर दिया।

रूस के ख़िलाफ अमेरिकी प्रतिबंधों के दृष्टिगत इस समय दोनों देशों के संबंधों के बेहतर होने की कोई अपेक्षा नज़र नहीं आ रही है।

 

 

Read more...

अबूबक्र अलबग़दादी की गिरफ़्तारी के बारे में विरोधाभासी ख़बरें

मास्कोः अबूबक्र अलबग़दादी की गिरफ़्तारी के बारे में विरोधाभासी ख़बरें आ रही हैंं।स्पूतनिक समाचार एजेन्सी के अनुसार यूरोपीय सुरक्षा और सूचना विभाग के महासचिव के कार्यालय ने घोषणा की है कि बग़दादी को गिरफ़्तार कर लिया गया है।

यूरोपीय एजेंसी डीईएसआई के हवाले से आ रही इस ख़बर में कहा गया कि उनके कार्यालय को सटीक जानकारी मिली है कि सीरिया और रूस के संयुक्त खुफिया निगरानी मिशन के अन्तर्गत सीरिया के उत्तर में दाइश प्रमुख बग़दादी को गिरफ्तार कर लिया गया है।

डीईएसआई के मीडिया कार्यालय ने संकेत दिया कि इस ऑपरेशन के विवरण की सटीक जानकारी मिलने और इस जानकारी की पुष्टि में थोड़ा समय लग सकता है।

उधर रूसी संचार माध्यमों में भी कहा गया है कि इराक़ से सीरिया भागते समय बग़दादी को गिरफ़्तार कर लिया गया।

उल्लेखनीय है कि इससे पहले भी क्रूरतम आतंकवादी गुट दाइश के प्रमुख अबूबक्र अलबग़दादी के मारे जाने या गिरफ़्तार किये जाने की ख़बरें आ चुकी हैं।

Read more...

इन्हें भी पढ़ें

loading...
Info for bonus Review William Hill here.