Menu
                   
RSS

You Are Visitor No.

web
statistics

लीबिया में ISIS के चंगुल से डॉक्टर समेत 6 भारतीयों को छुड़ाया गया

त्रिपोलीः लीबिया में आतंकवादी संगठन आईएसआईएस के चंगुल में फंसे एक डॉक्टर समेत छह भारतीयों को छुड़ा लिया गया है। उस भारतीय डॉक्टर को भारत लाया जा रहा है। विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने मंगलवार रात इसकी जानकारी सोशल मीडिया साइट ट्विटर पर दी।

स्वराज ने बताया कि लीबिया में अगवा किये गये भारतीय व्यक्ति को रिहा करा लिया गया है और उसे भारत लाया जा रहा है। उन्होंने कहा कि डॉ राममूर्ति कोसानाम को गोली लगी है।

We have rescued Dr.Ramamurthy Kosanam in Libya. Dr.Kosanam has suffered a bullet injury. We are bringing him to India shortly. 1/

— Sushma Swaraj (@SushmaSwaraj) February 21, 2017

उन्होंने कहा, हमने लीबिया में डॉ राममूर्ति कोसानाम को छुड़ा लिया है। हम उन्हें शीघ्र ही भारत ला रहे हैं।

स्वराज ने कई ट्वीट कर कहा, इसके साथ ही हमने वहां अगवा सभी छह भारतीयों को रिहा करा लिया है। मैं वहां हमारे मिशन द्वारा किये गये अच्छे काम की सराहना करती हूं।

With this, we have rescued all the six Indians abducted there. I appreciate the good work done by our mission there. /2

— Sushma Swaraj (@SushmaSwaraj) February 21, 2017

डॉ राममूर्ति कोसानाम को करीब 18 महीने पहले लीबिया में इस्लामिक स्टेट के आतंकवादियों ने अगवा कर लिया था। वह आंध्र प्रदेश में कृष्णा जिले के एक गांव के रहने वाले हैं।

Read more...

लीबिया में कार बम धमाका,22 की मौत

लीबिया:

 

 

 लीबिया के पूर्वी शहर बेंगाजी में सुरक्षाबलों को निशाना बनाकर किए गए एक कार बम धमाके में 22 लोगों की मौत हो गई और 20 अन्य घायल हो गए। सेना एवं चिकित्सीय विभाग के एक प्रवक्ता ने इस बात की जानकारी दी। 

 

 

धमाका गुवारशा जिले एक रिहायशी इलाके में हुआ। गुवारशा वह क्षेत्र है जहां लीबिया की वर्तमान सरकार के प्रति वफादार सुरक्षा बलों और इस्लामिक कट्टरपंथियों के बीच संघर्ष हो रहा है। बेंगाजी क्रांतिकारियों की शूरा परिषद ने विस्फोट की जिम्मेदारी ली है। 

 

 

समूह से जुड़ी मीडिया साइटों पर बयान जारी कर इस हमले की जिम्मेदारी ली गई। दो साल पहले पूर्वी कमांडर खलीफा हफ्तार द्वारा शूरा परिषद् के खिलाफ चलाए गए अभियान के कारण बेंगाजी में लगातार हिंसा हो रही है। उसकी सेना पिछले कुछ महीनों में शहर के विभिन्न क्षेत्रों पर कब्जा कर चुकी है, लेकिन अभी तक पूरे शहर पर कब्जा नहीं कर पाई है। यहां सामान्य रूप से कभी कभार ही कार बम विस्फोट होते हैं, हालांकि इस ताज़ा विस्फोट में मरने वालों की संख्या बहुत अधिक है। 

Read more...

इन्हें भी पढ़ें

loading...
Info for bonus Review William Hill here.