Menu
                   
RSS

You Are Visitor No.

web
statistics

विश्व में सबसे शानदार है भारत का क्रिकेट

भारत में क्रिकेट के खेल को एक धर्म के रूप में माना जाता है। यही कारण है कि भारत में आज जो क्रिकेट का स्तर है वो विश्व में सबसे उच्च है। पुरुष क्रिकेट हो या महिला क्रिकेट, भारत का ढंका पूरे विश्व में बज रहा है।

प्रतिभाओं का आलम यह है कि बड़े नाम अब टीम में स्थायी नहीं रह पाए हैं। कोई खिलाड़ी 2-4 मैचों में खराब प्रदर्शन करता है तो उसका विकल्प खुद सामने आ जाता है और उस खिलाड़ी के लिए वापसी मुश्किल हो जाती है।

क्रिकेटर करून नैयर इस बात का एक पूर्ण उदाहरण है कि तिहरा शतक टेस्ट मैच में बनाने वाला बल्लेबाज जिसका कि औसत 62.6 का रहा हो वो आज भारत की टेस्ट टीम में स्थान के दावेदारों में भी शामिल नहीं हो पाता है।

वरिष्ठ गेंदबाज रविचंद्रन अश्विन को अनिल कुंबले का स्थान भ देने वाला गेंदबाज माना जाता था। टेस्ट मैच हो या एकदिवसीय मैच, बिना अश्विन के टीम पूर्ण नहीं मानी जाती थी।

आज अश्विन टीम में स्थान बनाने के लिए कुलदीप यादव, यजुवेन्द्र चहल व वाशिंगटन सुंदरम से संघर्ष करते नजर आते हैं क्योकि विकेटों का सूखा उनके साथ रहने लगा है।

59 टेस्ट मैच खेलने वाले मुरली विजय भारत के टेस्ट मैचों में सलामी बल्लेबाज माने जाते थे। करीब 4000 टेस्ट रन बनाने वाले इस बल्लेबाज के बल्ले से 12 शानदार शतक व 15 अर्धशतक भी निकले हैं।

पृथ्वी शॉ के आने के बाद इनकी अब कोई पूछना तो दूर अब सोच भी नहीं रहा जबकि इंग्लैंड दौरे तक यह भारतीय टीम के लिए खास होते थे।

भारत में स्कूली क्रिकेट के बाद जिस तरह का अंडर 15, अंडर 19 का ढांचा है व उसके बाद भी चयन के लिए खिलाड़ियों को रणजी ट्रॉफी, देवधर ट्रॉफी व ईरानी ट्रॉफी के चक्र से गुजरना होता है वो खिलाड़ियों को न केवल मानसिक मजबूती देता है साथ ही हर क्षेत्र और हर परिस्थितियों में खेलने का जज्बा पैदा करता है।

कुछ वरिष्ठ खिलाड़ियों ने इस पूरे क्रम को सुधारने व सर्वोच्च बनाने में अपने शानदार प्रयास दिये हैं जिनमें राहुल द्रविड़ का नाम सबसे उपर आता है।

2018 की शुरुआत में जिस भारतीय अंडर 19 टीम के द्वारा शाही अंदाज में विश्व कप जीता गया था उस टीम को पूरी तरह राहुल द्रविड़ ने ही तैयार किया था।

भविष्य के क्रिकेटरों की फौज भारत में तैयार है और विश्व क्रिकेट में भारत का ढंका आने वाले सालों में बजता रहेगा इसकी उम्मीद सबको है क्योंकि भारत में क्रिकेट को धर्म के रूप में खेला जाता है और इस खेल के पुजारियों और भक्तों की कोई कमी नहीं है।

 

Last modified onTuesday, 27 November 2018 06:23
back to top

इन्हें भी पढ़ें

loading...
Info for bonus Review William Hill here.