Menu
                   
RSS

You Are Visitor No.

web
statistics

प्रद्युम्न का हत्यारा बोला उसने नहीं की हत्या, स्कूल प्रबंधन लगाये आरोप

गुरुग्राम/  भोंडसी स्थित रेयान इंटरनेशनल स्कूल के छात्र प्रद्युम्न ठाकुर की हत्या मामला ऐसा लग रहा था कि पुलिस हत्‍यारोपी के नजदीक पहुंचने में कामयाब हो रही है, लेकिन एक घटना से पुलिस के अब तक किए कराए पर पानी फेर दिया। यह हत्‍या की गुत्‍थी एकदम उलझ गया।

गिरफ्तारी से लेकर पुलिस रिमांड के दौरान तोते की तरह आरोप कबूलने वाला बस हेल्पर अपने बयान से पलटी मार गया। उसने जेल में मिलाई के दौरान अपनी पत्नी ममता तथा तथा पिता अमीचंद्र तथा वकील मोहित वर्मा से कहा उसने छात्र की हत्या नहीं की। इतना ही नहीं उसने पुलिस पर इतनी गंभीर आरोप मढ़े कि आप भी पढ़कर चौंक जाएंगे।

 

1- पुलिस ने नशे का इंजेक्शन देने के बाद सादे कागज में साइन करा लिए थे। यही नहीं उसे बुरी तरह से पीटा भी था। पानी में मुंह डुबो कर अपनी बात कहने को मजबूर किया।

2-  अशोक ने बताया कि उसे पुलिस अधिकारियों ने यह भी कहा कि उन पर बड़ा दबाव है। असली कातिल हम पकड़ चुके हैं अभी जुर्म कबूल कर लो दो दिन बाद छोड़ दिया जाएगा।

 

3- अशोक चाकू लेकर बाथरूम में नही गया था। चाकू तो पुलिस या प्रबंधन ने प्लान कर वहां पर रखवाया। वारदात के बाद उसे धुला भी दिया था, ताकि फ्रिंगर ट नहीं आए।

 

4- अशोक के मुताबिक वहां पर दो बड़ी क्लास के बच्चे थे जो कपड़े बदल रहे थे। वह तो शौच के बाद बाथरूम ने निकल गया था। स्कूल की मैडम ने जब धर्म के नाम पर बच्चे को उठाने को कहा तो उसने वहां से बच्चे को उठा स्कूल की वैगन आर कार तक पहुंचाया था।

 

5- अशोक के वकील का कहना है कि अशोक को जेल में भी प्रताडि़त किया जा रहा है। कैदी उसे जाकर मारते हैं कि तूने बच्चे की जान क्यों ले ली। वार्डन भी उसे समय से खाना नहीं खाने देते। वहीं जेल प्रशासन ने कहा अशोक की सुरक्षा को लेकर हम सजग हैं उसे स्पेशल बैरक में रखा गया है। उसे वकील के आरोप गलत हैं।

Read more...

स्कूल में मासूम की हत्‍या: आरोपी दरिंदे का कबूलनामा

गुरुग्राम/ रयान इंटरनेशनल स्कूल में दूसरी क्लास के बच्चे की मौत के मामले में गुरुग्राम पुलिस ने मात्र 12 घंटे के अंदर आरोपी को पकड़ लिया। इतना ही नहीं मीडिया में उसका कबूलनामा भी आ गया। लेकिन मामला यही खत्‍म नहीं होता। इस घटना को लेकर छात्रों में जबरदस्‍त भय व्‍याप्‍त है।

परिजनों में आक्रोश है। परिजन पुलिस और स्‍कूल प्रबंधन की कार्रवाई से संतुष्‍ट नहीं है। परिजनों का कहना है कि इसकी सीबीआइ जांच होनी चाहिए, तभी सच्‍चाई सामने आएगी। बढ़ते दबाव और परिजनों के आक्रोश के बीच स्‍कूल प्रबंधन ने प्रिंसिपल को सस्‍पेंड कर दिया है। उधर पुलिस का दावा है कि वह मामले के तह तक जाएंगे, जिससे सच सामने आ सके।

उधर, शुक्रवार की रात पुलिस ने स्‍कूल के बस कंडेक्टर, ड्राइवर और स्कूल स्टॉफ के एक कर्मचारी को लंबी पूछताछ के बाद गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस ने तीन आरोपियों के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज कर लिया है।

जानकारी के मुताबिक आरोपियों ने बच्चे का यौन शोषण करने की कोशिश की थी। आरोपी कंडक्टर ने पूछताछ के दौरान यह कबूल किया कि उन्होंने गुरुवार को भी बच्चे का यौन शोषण करने की कोशिश की थी। स्कूल स्टाफ को छात्र का लहूलुहान शव बाथरूम में मिला था। जिसके बाद सूचना पुलिस को दी गई थी। मृतक छात्र का नाम प्रद्युमन ठाकुर है।

घटना के बाद से ही यही शक किया जा रहा था कि मासूम छात्र की हत्या किसी विकृत मानसिकता वाले व्यक्ति ने की है। वह छात्र या कर्मचारी कोई भी हो सकता है। शक कर्मचारी की ओर अधिक था। पुलिस ने स्कूल के करीब 14 कर्मचारियों से अलग-अलग पूछताछ की। लेकिन जब अशोक की बारी आई तो उसके हाथ पैर कांपने लगे थे।

 

इसके बाद पुलिस अधिकारी ने सख्ती की तो वह टूट गया और उसने गुनाह कबूल लिया। पुलिस के मुताबिक अशोक ने दो दिन पहले भी छात्र के साथ गलत हरकत करने की सोची थी पर उसे मौका नही मिला था।

Read more...

फ़रीदाबाद में रोहिंग्या मुसलमानों पर हमला

फ़रीदाबाद/ बक़रीद के अवसर पर भारत में रोहिंग्या मुसलमानों पर हमला किया गया।प्राप्त रिपोर्ट के अनुसार भारत के फ़रीदाबाद ज़िले के बल्लभगढ़ क्षेत्र में स्थित मुजेरी गांव में रोहिंग्या मुसलमानों पर हमला किया गया।  इस गांव में लगभग 45 रोहिग्या परिवार रहते हैं।

इस हमले के शिकार एक रोहिंग्या मुसलमान का कहना है कि बक़रीद के दिन कुछ लोगों ने ज़बरदस्ती हमारे जानवर हमसे छीनने की कोशिश की।  उन्होंने कहा कि जब हमने उनको मना किया तो उन्होंने हमे बुरी तरह से लाठी डंडों से पीटा।  शाकिर नामक इस व्यक्ति का कहना था कि हमला करने वाले पन्द्रह से बीस लोगों के कई झुंडों में थे।  एक अन्य रोहिंग्या मुसलमान जमील का कहना है कि हमला करने वालों ने महिलाओं को भी बुरी तरह से पीटा।  जमील ने कहा कि उन्होंने हमको धमकी दी कि यदि पुलिस में शिकायत की तो हम तुम सबको जान से मार देंगे।

ज्ञात रहे कि म्यांमार में रहने वाले रोहिंग्या मुसलमानों ने वहां की सेना और बुद्ध चरमपंथियों के आक्रमण से भागकर कुछ देशों में शरण ली है जिनमें एक भारत भी है।

Read more...

बिना तेल के पानी में पकौड़े बना लेते हैं रॉक स्टार बाबा राम रहीम

चंडीगढ़/ डेरा सच्चा सौदा प्रमुख गुरमीत राम रहीम पर चल रहे साध्वी यौन शोषण मामले में 25 अगस्त को सीबीआई कोर्ट का फैसला आना है। राज्य सरकार की तमाम कोशिशों के बावजूद लाखों डेरा प्रेमी पंचकूला में इकट्ठा हो चुके हैं। समर्थक उन्हें 'चमत्कारिक गुरु' मानते हैं। उनका दावा है कि बाबा लाइलाज बीमारी को भी ठीक कर देते हैं। भक्तों का यह भी कहना कि बाबा बिना तेल के पानी में पकौड़े और करेले की सब्जी बना लेते हैं। 

बाबा के समर्थकों में उनके प्रति इतनी श्रद्धा है कि वह डेरा सच्चा सौदा के खिलाफ कुछ भी सुन नहीं सकते।

जबकि कुछ लोग उनको रहस्यमयी मानते हैं। कहते हैं कि बाबा हमारे दुख-दर्द को दूर करते हैं वह हमारे लिए भगवान हैं।

बाबा के भक्त कहते प्रभु राम रहीम के चलते हमारे लाइफ में कई चमत्कार हुए हैं उन्हें हम कभी नहीं भूल सकते।

राम रहीम की जिंदगी रहस्यमयी है। कभी खिलाड़ी बन जाते हैं तो कभी एक्टर और भक्तों के लिए संत भी यही हैं।

जानकारों का कहना है कि डेरा प्रमुख की जिंदगी जितनी सामने से रहस्यमयी दिखती है उतनी ही पर्दे के पीछे है।

डेरे समर्थक कहते हैं कि बाबा ने हमारी शराब, मांस और कई बुरी आदतें छुड़वाई हैं वह हमारे लिए पिता हैं।लाखों भक्त उन्हें चमत्कारिक मानते हैं कहते वह कुछ भी कर सकते हैं उन्होंने कईयों की जिंदगी संभाल दी है।

खबरों की माने तो बाबा राम रहीम की सुरक्षा में महिला सेवादार भी तैनात रहती हैं।खबरों के मुताबिक बाबा पर निजी सेना रखने का आरोप भी लग चुका हैं। डेरा सच्चा सौदा में निजी सेना चप्पे-चप्पे पर नजर आती है।

बाब राम रहीम का अंदाज बाकी संत-महात्माओं से बिलकुल अलग हैं। वह किसी रॉकस्टार से कम नहीं हैंउनकी वेशभूषा और कपड़े पहनने की स्टाइल से अंदाजा लगाया जा सकता है कि वो कितनी ग्लैमरस जिंदगी जीते हैं।

Read more...

इन्हें भी पढ़ें

loading...
Info for bonus Review William Hill here.